LATEST NEWSउत्तर प्रदेश

सड़क पर लेट कर सुदामा ने शुरू किया धरना तो जागेएनएचआई के जिम्मेदार

 बस्ती। रामजानकी मार्ग तिराहे पर बिना सर्विसलेन का निर्माण कराए एनएचआई द्वारा कराए जा रहे अण्डरपास निर्माण का समाजसेवी चन्द्रमणि पाण्डेय‘सुदामा’ ने विरोध जताया। राजा जालिम सिंह की मूर्ति के आगे लेट धरना करने लगे तो एनएचआई ने सडक सफाई के नाम पर उनके उपर धूल उडाना शुरु किया जिससे नाराज सुदामा पाण्डेय सर्विसलेन पर ही लेट कर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। इसकी सूचना बाजार और आस पास के गांवों के ग्रामीणों को हुई तो वे सैकड़ों की संख्या में पहुंच गए और ‘सुदामा’ के समर्थन में नारेबाजी शुरू कर दी। छावनी पुलिस को घंटों नोक झोंक के बाद भी जब विरोध को शांत कराने में सफलता नहीं मिली तो एनएचआई ने आवागमन को वनवे कर दिया। इसके बाद भी जब विरोध प्रदर्शन बंद नहीं हुआ तो एनएचआई के आरआई मोहन सिंह ने आनन फानन में सर्विसलेन का निर्माण शुरू कराते हुए उसकेे पूर्ण रूप से न बन जाने तक यातायात को वनवे रखने का लिखित आश्वाशन देते हुए विरोध प्रदर्शन समाप्त कराया।
विरोध प्रदर्शन कर रहे ‘सुदामा’ ने बताया कि एनएचआई ने सर्विसलेन को बिना बनाए गाडियों का आवागमन जारी रखा जिसके चलते दुकानों में धूल भर रहा था बल्कि आए दिन सडक की गिट्टी दुकानदारों एवं खरीदारों के लिए समस्या बनी हुई थी। इसे लेकर 19 अगस्त को छावनी के व्यापरियों ने उनके नेतृत्व में रामजानकी तिराहे पर धरना दिया था। एनएचआई एवं चौकड़ी टोल के अधिकारियों ने 10 दिनों में सर्विसलेन बनाने का लिखित आश्वासन देकर धरना समाप्त कराया था। इसके बाद भी सर्विसलेन का निर्माण तो दूर अधिकारियों ने दुकानदारों को ही डराने धमकाने का काम किया। इस वायदाखिलाफी के बाद उनके द्वारा 24 घंटे में सर्विसलेन का निर्माण शुरू न होने पर सडक पर लेटकर समस्या समाधान न होने तक धरना देने का अल्टीमेटम दिया गया था। इसके बाद एनएचआई के जिम्मेदार जागे और गाडियों को वनवे कराते हुए सर्विसलेन का निर्माण कार्य भी शुरू कराया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button