उत्तर प्रदेश

आकाशीय बिजली गिरने से युवक की मौत, मां, बेटी, भांजी झुलसी 

बस्ती। आकाशीय बिजली गिरने से लालगंज थाना क्षेत्र के एक युवक की मौत हो गई, जबकि मुंडेरवा थाना क्षेत्र में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से मां, बेटी,भांजी झुलस गई।लालगंज थाना क्षेत्र के परसांव गांव में बरसात में भीगने से बचने के लिए शीशम के पेड़ की छाया में खड़े एक युवक की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो। सूचना बाद मौके पर पहंुची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजने की कार्रवाई की।
परसांव गांव स्थित भट्ठा के बगल परमेश्वरपुर की ओर जाने वाले चक मार्ग पर लहुलुहान युवक पर राहगीरों की नजर पड़ी। ग्रामीणों ने डायल 112 एवं पुलिस चौकी कुदरहा को घटना की जानकारी दी। मौके पर पहुंच कर पुलिस ने शव की शिनाख्त कराई तो उसकी पहचान लालगंज थाना क्षेत्र के परेवा गांव निवासी 38 वर्षीय श्याम सुंदर के रुप में हुई। मौके पर पहुंची मृतक की मां बेटे की हालत देखकर बेसुध हो गई।
 परमेश्वरपुर गांव के लोगों के अनुसार युवक सुबह पैदल परसांव भठ्ठे की तरफ जा रहा था। उसी समय बरसात होने  लगी और भीगने से बचने के लिए वह शीशम के पेड़ की छाया में खड़ा हो गया। ग्रामीणों के अनसार युवक मोबाइल पर किसी से बात कर रहा था। इसी बीच आकाशीय विजली तड़क कर गिरी और उसकी मौत हो गई। चौकी प्रभारी ने बताया कि मृतक का शरीर जल कर काला हो गया है। पास में पड़ी मोबाइल भी जल कर बिखर गई हैै। देखने से तो आकाशीय बिजली ही लग रहा हैै। शव पीएम के लिए भेज दिया गया है। रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा।वही मुंडेरवा थाना क्षेत्र के चोलखरी गांव में आकाशीय बिजली गिरने से एक ही घर के तीन लोग  झुलस गए। इनमें मां, बेटी, भांजी शामिल हैं। परिजनों ने तीनों को जख्मी हालात में मुंडेरवा में स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया।प्राथमिक इलाज के बाद एक महिला को घर भेज दिया गया,जबकि दो का इलाज अभी चल रहा है।
चोलखरी निवासी पवन कुमार के पक्के मकान पर तेज गरज के साथ बिजली गिर पड़ी।बिजली गिरने से आस-पास अफरा-तफरी मच गयी।बिजली पवन कुमार के मकान में बने किचन पर गिरने से किचन में काम रही उनकी पत्नी 35 वर्षीय आरती, पुत्री 18 वर्षीय  राधिका, भांजी 16 वर्षीय अंशिका  आकाशीय बिजली की चपेट में आ गई।  तीनों को झुलसी अवस्था में परिजन इलाज के लिए मुंडेरवा में एक निजी अस्पताल लेकर पहुंचे।  आरती का जख्म कम होने की वजह से प्राथमिक उपचार के बाद उसे घर भेज दिया गया। राधिका और अंशिका का  इलाज चल रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button