Uncategorized

गोआश्रय स्थलों में दो ट्राली पराली देने पर किसान को एक ट्राली गोबर की खाद मिलेगी मुफ्त

बस्ती  गोआश्रय स्थलों में दो ट्राली पराली देने पर किसान को एक ट्राली गोबर की खाद दी जायेंगी। उक्त जानकारी मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 राजेश कुमार प्रजापति ने दी है। वे विकास भवन सभागार में आयोजित किसान दिवस में किसानों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि खेत में पराली जलाने पर प्रतिबन्ध है। ऐसा करते हुए पकड़े जाने पर किसान को आर्थिक दण्ड भुगतना होगा। इस संबंध में मा0 उच्चतम न्यायालय तथा राष्ट्रीय हरित ट्रिव्युनल ने सख्त आदेश दिये है।
उन्होने कहा कि पराली जलाने की सेटेलाइट से पिक्चर प्राप्त हो जाती है। उन्होने अपील किया कि कोई भी किसान धान कटाने के बाद खेत में आग न लगाये। खेत में आग लगाने से इसकी उर्वरा शक्ति कमजोर हो जाती है तथा धीरे-धीरे उत्पादन कम होने लगता है।
उन्होने कहा कि किसानों को जैविक खेती करनी चाहिए। जैविक खेती से उत्पादित अन्न, फल एंव सब्जियों का दाम अधिक हो सकता है परन्तु मार्केट में इसकी पर्याप्त डिमाण्ड रहती है। उन्होने कहा कि जनपद की सभी कृषि उत्पादन मण्डियों को इस आशय का निर्देश दिया जा रहा है कि वे अलग से दुकान चिन्हित कर दे, जहॉ केवल जैविक खेती के उत्पाद बेचे जायेंगे। इस संबंध में प्रगतिशील किसान राममूर्ति मिश्रा ने सुझाव दिया था।
उन्होने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के प्रावधानों, नियमों के बारे में सभी बैंक शाखाओं में वैनर लगाने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि जो किसान अपनी फसल का बीमा नही कराना चाहते, वे अपने बैंक शाखा में जा कर लिखित रूप से अवगत करा दें। किसान दिवस में किसान हरिप्रसाद ने बताया कि उनके गॉव का नाम गलत हो जाने के कारण वे प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि से वंचित हो गये है। साधू शरण यादव ने बताया कि इस योजना की पिछली सात किश्ते मिसमैच होने के कारण दूसरे के खाते में चली गयी है। दोनो किसानों ने इसको ठीक कराने का अनुरोध किया है।
सीडीओ ने उप निदेशक कृषि तथा लीड बैंक मैनेजर को ऐसे सभी मामलों को प्राथमिकता पर निस्तारित कराने का निर्देश दिया है। उन्होने यह भी निर्देश दिया है कि किसान दिवस में प्राप्त अन्य शिकायतों को भी एक सप्ताह के भीतर निस्तारित करके रिपोर्ट उन्हें उपलब्ध कराये। किसान दिवस का संचालन उप निदेशक कृषि राम बचन राम ने किया। इस अवसर पर प्रगतिशील किसान राममूर्ति मिश्रा, डीएन शुक्ला, विश्वनाथ चौधरी, आज्ञाराम वर्मा, राजेश कुमार, बाबूराम वर्मा, जयराम, योगेन्द्र सिंह, प्रेमचन्द्र पाठक, हरिप्रसाद, साधूशरण, परमानन्द सिंह, दुष्यन्त शुक्ला, दिनेश प्रताप सिंह, राधोमणि, मृदा प्रयोगशाला के अध्यक्ष इन्द्रजीत मिश्र, लीड बैंक मैनेजर अविनाश चन्द्रा, डॉ0 प्रेम शंकर, हरेन्द्र प्रसाद, क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी सुशील मिश्र, प्रमोद कुमार श्रीवास्तव, नीरज कुमार श्रीवास्तव, विष्णुपाल, नन्देश कुमार गुप्ता, वेद प्रकाश सिंह उपस्थित रहें।
———

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button