उत्तर प्रदेश

गौर क्षेत्र में हरियाली के दुश्मन बने लकड़ी माफिया करमा गांव में 2 दिनों में ही काट डाला आम व महुआ का बाग

बस्ती।  गौर क्षेत्र के गांवों में हरियाली का दुश्मन वन माफिया बने हुए हैं l ग्रामीणों का आरोप है कि विभाग की मिलीभगत से पूरा खेल खेला जा रहा हैl हरियाली के दुश्मन बने वन माफिया आम , नीम, महुआ आदि प्रतिबंधित पेड़ों की कटाई कर रहे हैं l लगभग एक पखवाड़े में 3 गांव में दर्जन भर पेड़ों को काट डाला गया l
एक तरफ जहां सरकार पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधरोपण पर बल दे रही है वही वन माफिया विभाग की मिलीभगत से बाग के बाग  धराशाई कर दे रहे हैं l  सोमवार से ही गौर थाना, क्षेत्र के करमा गांव में बड़े पैमाने पर हरे पेड़ों की कटाई शुरू की गई  मंगलवार  सुबह होते होते  हरियाली के दुश्मन यहाँ आम व महुआ के बाग में कुल सात पेड़ काट बाग को उजाड़ डाला  l लगभग दस दिन पहले बढ़या गांव के पचीसो नामक पुरवा पर दो विशालकाय आम के पेड़ को वन माफियाओं धराशाई कर दिए वही कंचनपुर गांव में भी 3 आम के पेड़ काटे डाले गए l

शिकायत पर गांव पहुंचे फॉरेस्टर व रेंजर

करमा गांव में बड़े पैमाने पर पेड़ काटने की ग्रामीणों की शिकायत वह सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे सूचना पर वन विभाग की नींद टूटी फॉरेस्टर हरिओम पांडेय व  रेंजर ओम प्रकाश सिंह सहित वनरक्षक अजय कुमार भारती वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच  गई l फॉरेस्टर हरिओम पांडे ने बताया कि शिकायत पर पेड़ काटने की जानकारी मिली है विभाग के तंत्र को और मजबूत किया जाएगा जिससे पेड़ कटने की सूचना शीघ्र प्राप्त हो जाए वही रेंजर ने बताया कि पेड़ काटने वाले के विरुद्ध वृक्ष संरक्षण अधिनियम के तहत कार्यवाही की गई हैl

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button