उत्तर प्रदेश

हॉकी को पहचान दिलाने वाले ध्यानचंद का नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज है : जावेद खान 

बढ़नी सिद्धार्थनगर
 पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आह्वान पर राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर सपाइयों ने  कार्यक्रम आयोजित करते हुए भारतीय हाकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद जयंती मनाई गई। मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड के जिलाध्यक्ष जावेद खान के अगवाई में कार्यकर्ताओ द्वारा बढ़नी बस स्टाप चौराहे पर मेजर ध्यानचंद के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर जयंती मनाया गया । इस दौरान जिलाध्यक्ष जावेद खान ने कहा की दुनिया में हॉकी को पहचान दिलाने वाले ध्यानचंद का नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज है । ध्यानचंद को लोग प्यार से दद्दा कहकर संबोधित करते थे ।ध्यानचंद की जयंती पर हर साल खेल दिवस मनाया जाता है । ध्यानचंद  का जन्म 29 अगस्त 1905 को इलाहाबाद शहर में था । उनके छोटे भाई रूपसिंह ने भी अहॉकी में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया । ध्यानचंद की गिनती विश्व के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में होती है । मेजर ध्यानचंद ने भारत को ओलंपिक में 3 स्वर्ण पदक दिलवाए थे उन्होंने एम्सटर्डम में हुए ओलंपिक खेलों में भारत की ओर से सबसे ज्यादा 14 गोल किए थे। उन्होंने भारत को 3 ओलंपिक  खेलों में गोल्ड दिलाया था । ध्यानचंद ने अपने हॉकी करियर में 1000 से अधिक गोल किए थे । मेजर ध्यानचंद का किस्सा काफी मशहूर है ।मेजर ध्यानचंद ने जर्मनी जैसी दुनिया की सर्वश्रेष्ठ हॉकी टीम को 8-1 से ओलंपिक में हराकर हिटलर को अपना मुरीद बना लिया था ।
इस दौरान बाबा इब्राहिम खलखुल्लाह पटेल राजेश चौधरी सूरज यदुवंशी मो0 अख्तर ग्राम प्रधान प्रतिनिधि राधेश्याम शर्मा दिलीप राज यादव मयंक सिंह गयासुद्दीन वशीम आदि लोग उपस्थित रहे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button